Char Hi chakka Ke Motarwa Chhath Puja Ke geet | चार ही चक्का के मोटरवा छठ पूजा गीत

Char Hi chakka Ke Motarwa Chhath Puja Ke geet | चार ही चक्का के मोटरवा छठ पूजा गीत

चार ही चक्का के मोटरवा,
मोटरवा बइठि ससुरजी|
चार ही चक्का के मोटरवा,
मोटरवा बइठि ससुरजी|
पहनी हाली हाली धोतिया पियरिया,
अरगिया के बेर भइल|(२)

 

देवरजी बन्जाइ ड्राइवरवा,
मोटरवा हॉकी जल्दी से जी,..(२)
सैया हाली रउवो,
पहनना पिआरिया,
अरगिया के देर भईल||

भसुरजी धरी हई दउरवा,
दउरवा धरी जल्दी से जी,…(२)
चढ़ी हाली हाली,
गाड़ी के बिटरिया,
अरगिया के बेर भइल||

 

सासु जी लेली हई शीपुलिया,
शीपुलिया भर फलवा से जी,…(२)
केने गइली दीदी,
छोटकी गोतिनिया,
अरगिया के बेर भइल||
चली हाली हाली…
अरगिया के बेर भइल||

 

चार ही चक्क्क के मोटरवा,
मोटरवा बैठी बबुवा जी,
पेहनीहाली हाली धोतिया पियरिया,
अरगिया के बेर भइल||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *